Saturday, 22 September, 2012

आज एक नजदीकी मित्र का जन्म दिन है पर पोस्ट लगाने का यह कारण नहीं है। कारण है उनकी मुछे !! उनकी मुछो को सहलाते हुई कुछ ताजा 'अक्स' की पंक्तिया...

पाले हम ने भी शौक बड़े 
पर शौक तेरा मुछों का बड़ा 
तू जाट मलंग है शान दोस्त 
तेरे 'घंटा' उसूलो का सम्मान बड़ा 

कितनी ही बार बचे हम सब 
तेरे 'MASS' रुपी पर्यासों से 
पर कितनी बार लूटे कपडे 
तेरे बाद हुए vivaओं से

आज दिन है तेरा सितम्बर २२
ये ही तेरा रोल नंबर भी
तेरी लाइफ मैं है बैलेंस बड़े
पर शौक तेरा मुछों का बड़ा

तू रहे खुश और खिलता रहे
तेरी मुछों का गलियारा सदा

जो भी तू पाले शौक नया
हो शौक तेरा मुछों सा बड़ा

पाले हम ने भी शौक बड़े
पर शौक तेरा मुछों का बड़ा ||

 जन्मदिन मुबारक हो, Prateek !!